Search
Friday 19 October 2018
  • :
  • :
Latest Update

मेसमराईजिंग किन्नौर उत्सव का शुभारंभ


उपाध्यक्ष हिमाचल प्रदेश विधानसभा जगत सिंह नेगी ने आज रिज मैदान शिमला में जिला प्रशासन किन्नौर और भाषा एवं संस्कृति विभाग द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित मेसमराईजिंग किन्नौर – ‘‘किन्नौर जिला की सांस्कृतिक झलक’’ उत्सव का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में किन्नौर जिला की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत, हस्तशिल्प, हस्तकला, काष्ठ कला और अन्य कलाओं को प्रदर्शनी व सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से प्रस्तुत किया जा रहा है। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री जगत सिंह नेगी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सभी जनजातीय क्षेत्रों का समान विकास सुनिश्चित किया जा रहा है। इन क्षेत्रों में गुणवत्तापूर्ण पेयजल, स्वास्थ्य, सड़क और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं।

जगत सिंह नेगी ने कहा कि किन्नौर जिला की सांस्कृतिक विरासत बहुत ही समृद्ध है। यहां महिलाओं का बहुत आदर व सम्मान किया जाता है तथा उन्हें समान अधिकार प्राप्त है। जिला किन्नौर में सामाजिक सरोकार बहुत महत्वपूर्ण है। यहां का अतिथि सत्कार और जीवनशैली श्रेष्ठ है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस उत्सव के माध्यम से न केवल स्थानीय लोगों बल्कि पर्यटकों को भी जिला किन्नौर की समृद्ध संस्कृति, भाषा और अन्य कलाओं को जानने और समझने का अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने इस आयोजन के लिए भाषा कला एवं संस्कृति, पर्यटन विभाग, जिला प्रशासन शिमला और अन्य संबद्ध सभी विभागां की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन से निश्चित रूप से प्रदेश की कला एवं संस्कृति के संरक्षण व सम्वर्द्धन को बल मिलेगा।

इस अवसर पर गेयटी थियेटर में मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। दुमति सांस्कृतिक दल कामरू ने हिरण नृत्य, मुरंग गोम्पा ने शेर नृत्य और दुर्गा सांस्कृतिक दल उरणी ने पारम्परिक लोक नृत्य प्रस्तुत किया। भाषा कला एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त निदेशक राकेश कोरला ने मुख्यातिथि का स्वागत और उपायुक्त किन्नौर डाॅ. नरेश कुमार लट्ठ ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तु किया। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव अरविंद मेहता, उपायुक्त किन्नौर डाॅ. नरेश कुमार लट्ठ, संयुक्त निदेशक भाषा, कला एवं संस्कृति राकेश कोरला, उप-निदेशक पर्यटन सुरेन्द जस्टा, उप-निदेशक भाषा, कला एवं संस्कृति बाल कृष्ण शर्मा, जिला लोक सम्पर्क अधिकारी किन्नौर ममता नेगी, डीएलओ त्रिलोक सूर्यवंशी, अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और गणमान्य लोग उपस्थित थे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *